MP Board Class 10th General English Chapter 7 Anger Solutions

In this article, We have given Latest MP Board Class 10th General English The Spring Blossom Chapter 7 Anger Passages, Meanings, Comprehensions, Sentence Correction, Solutions. These MP Board Solutions are solved by subjects experts.

MP Board Class 10th General English The Spring Blossom Solutions Chapter 7 Anger

Anger Textual Exercises

Word Power

A. Write rhyming words for these words from the poem.

Answer:
face – place
years – tears
wing – king
tries – wise

B. Match the following words with their synonyms.

  1. anger (a) win
  2. conquer (b) annoyance
  3. noble (c) calm
  4. peace (d) good

Answer:
1. → (b)
2. → (a)
3. → (d)
4. → (c)

C. Arrange the words given below in the columns according to the qualities they represent.
(अच्छे व बुरे गुणों को अलग-अलग कीजिए।)

(anger, ugly, fair, selfish, hostile, spoil, sorrow peace, frank, warm, conquer, noble, brave, wise, envy.)

Answer:
Positive qualities :
fair, hostile, peace, frank, warm, conquer, noble, brave, wise

Negative qualities :
anger, ugly, selfish, spoil, sorrow, envy

How Much Have I Understood?

A. Answer these Questions. (One or two sentences)

(निम्न प्रश्नों के उत्तर एक या दो वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
How does the poet describe anger in the first stanza?
(हाउ डज द पोएट डिस्क्राइब एंगर इन द फर्स्ट स्टैन्जा?)
कवि प्रथम पद्यांश में क्रोध का किस प्रकार वर्णन करता

Answer:
In the first stanza the poet describes anger as an ugly thing that spoils the facial expression of a person. He also describes it like a rainy cloud in sunny place.

(इन द फर्स्ट स्टैंज़ा द पोएट डिस्क्राइब्स एंगर एज एन अगली थिंग दैट स्पॉइल्स द फेसियल एक्सप्रेशन ऑफ अ पर्सन। ही ऑल्सो डिसक्राइब्स एट लाइक अ रेनी क्लाऊड इन सनी प्लेस।)
प्रथम पद्यांश में कवि गुस्से को बुरा व चेहरे के भाव को खराब करने वाला कहता है। वह धूप वाले चमकदार स्थान में बादल के समान है।

Question 2.
Who is greater than a king?
(हू इज ग्रेटर दैन अ किंग?)
राजा से ज्यादा महान् कौन है?

Answer:
A person who stops and keeps his anger in control is greater than a king.
(अ पर्सन हू स्टॉप्स एण्ड कीप्स हिज एंगर इन कन्ट्रोल इज ग्रेटर देन अ किंग।)
वह व्यक्ति जो अपने गुस्से को काबू में रखता है, राजा से भी ज्यादा महान् है।

Question 3.
Who is noble, brave and wise?
(हू इज़ नोब्ल, ब्रेव एण्ड वाइज?)
कौन श्रेष्ठ, बहादुर व चतुर है?

Answer:
The person who firmly tries to keep his temper and rule himself is noble, brave and wise.
(द पर्सन हू फर्मलि ट्राइज टू कीप हिंज टैम्पर एण्ड रुल हिमसेल्फ इज नोब्ल, ब्रेव एण्ड वाइज।)
वह व्यक्ति जो अपने गुस्से पर काबू व खुद पर नियन्त्रण रखने का पूर्ण रूप से प्रयास करता है वह श्रेष्ठ, बहादुर व चतुर है।

Question 4.
Describe ‘anger’ in your own words.
(डिस्क्राइब ‘एंगर’ इन योर ओन वर्ड्स।)
‘क्रोध’ को अपने शब्दों में वर्णित करो।

Answer:
Anger is a harmful expression. It not only snatches facial beauty but also does harm that is to be repented.

(एंगर इज अ हार्मफुल एक्सप्रेशन इट नॉट ओनलि स्नैचेज फेशियल ब्यूटी बट ऑल्सो डज़ हार्म दैट इज़ टू बी रिपेन्टिड।)
क्रोध एक हानिकारक भाव है। यह चेहरे की सुन्दरता को तो छीनता ही है और ऐसा नुकसान पहुंचाता है जिसके लिए पछतावा हो।

Question 5.
Give three characteristics of peace.
(गिव थ्री कैरेक्टरिस्टिक्स ऑफ पीस।)
शान्ति की तीन विशेषताएँ बताइए।

Answer:
Peace is frank, warm and soft.
(पीस इज फ्रैंक, वॉर्म एण्ड सॉफ्ट।)
शान्ति स्पष्टवादी, गर्म व मुलायम है।

B. Answer the following Questions. (Three or four sentences)

(निम्न प्रश्नों के उत्तर तीन या चार वाक्यों में दीजिए।)

Question 1.
What are the disadvantages of being angry?
(व्हॉट आर द डिसएडवेंटेजिज़ ऑफ बीइंग एंग्री?)
क्रोध से होने वाली हानियाँ क्या हैं?

Answer:
Anger has several disadvantages. It spoils the beauty of a person and also his relations. It takes away wisdom of a person so the words said in the state of anger sometimes do such a harm that cannot be corrected and there is nothing left except repentance.

(एंगर हैज सैवरल डिसएडवेंटेजिज़। इट स्पॉइल्स द ब्यूटी ऑफ अ पर्सन एण्ड ऑल्सो हिज रिलेशन्स। इट टेक्स अवे विज़डम ऑफ अ पर्सन सो द वर्ड्स सेड इन द स्टेट ऑफ एंगर समटाइम्स डू सच अ हार्म दैट कैननॉट बी करेक्टिड एण्ड देयर इज़ नथिंग लेफ्ट एक्सेप्ट रिपेन्टैन्स।)

क्रोध से कई हानियाँ हैं। यह व्यक्ति की खूबसूरती व उसके रिश्तों को हानि पहुँचाता है। यह व्यक्ति के विवेक को हर लेता है। इसी कारण गुस्से में कहे गये शब्द कई बार कुछ ऐसा नुकसान पहुँचाते हैं जो ठीक नहीं किया जा सकता और व्यक्ति के पास पछतावे के अलावा और भी कुछ नहीं रहता।

Question 2.
Why do we repent for a long time?
(व्हाय डू वी रिपेन्ट फॉर अ लाँग टाइम?)
हम काफी समय तक पछताते क्यों रहते हैं?

Answer:
We repent for a long time because the harm that is done by anger cannot be corrected in any way. No matter how many tears we shed.

(वी रिपेन्ट फॉर अ लाँग टाइम बिकॉज द हार्म दैट इज डन बाइ एंगर कैननॉट बी करैक्टिड इन एनी वे। नो मैटर हाउ मैनी टीयर्स वी शेड।)
हम काफी समय तक पछताते रहते हैं क्योंकि जो हानि क्रोध के द्वारा होती है वह किसी भी प्रकार ठीक नहीं हो सकती। हम चाहे कितने भी आँसू क्यों न बहायें उसके लिए।

Question 3.
Compare peace with anger.
(कम्पेअर पीस विद एंगर।)
शान्ति की क्रोध से तुलना कीजिए।

Answer.
Anger is a harmful expression that has the consequences which end in repentance. Peace is always pleasant. It drives away anger and helps to conquer it.

(एंगर इज अ हार्मफुल एक्सप्रेशन दैट हैज द कॉन्सिक्वेन्सेस व्हिच ऍन्ड इन रिपेन्टेन्स। पीस इज़ ऑल्वेज़ प्लेज़ेन्ट। इट ड्राइव्स अवे एंगर एण्ड हैल्प्स् टू कॉन्कर इट।)
क्रोध एक हानिकारक भाव है जिसके परिणामस्वरूप पछतावा ही होता है। शान्ति हमेशा मनोरम होती है। वह क्रोध को दूर भगाती है व उस पर काबू पाने में मदद करती है।

Question 4.
How can anger be conquered?
(हाउ कैन एंगर बी कॉन्कर्ड?)
क्रोध पर हम किस प्रकार नियन्त्रण रख सकते हैं?

Answer:
Anger can be conquered if one tries hard for it. By maintaining peace one can keep his temper in control.

(एंगर कैन बी कॉन्कर्ड इफ वन ट्राइज हार्ड फॉर इट। बाइ मेन्टेनिंग पीस वन कैन कीप हिज टैम्पर इन कन्ट्रोल।)
अगर कोई अत्यधिक प्रयत्न करे तो वो अपने क्रोध पर नियन्त्रण रख सकता है। शान्ति बनाए रखने से भी क्रोध नियन्त्रित रहता है।

Listening Time

A. Complete the following lines.
(निम्न पंक्तियों को पूरा कीजिए।)

Answer:
The hand of peace is frank and warm,
And soft as ring dove’s wing;
And he who quells an angry thought
Is greater than a king.
Ever remember in thy youth,
That he who firmly tries
To conquer and to rule himself
Is noble, brave and wise

Speaking Time

Students will fill up their identity cards. They will come forward and introduce themselves to the class.
(छात्र अपने परिचय-पत्र भरें व खुद को प्रस्तुत करें।)
Answer:
Students should fill up their identity cards themselves and then tell about them.
(छात्र स्वयं अपना परिचय-पत्र भरें व स्वयं के विषय में बताएँ)

Write a paragraph on these topics:
(निम्न पर एक गद्यांश लिखिए।)

1. When I got angry.
2. Bad effects of anger.
Answer:
1. When I got Angry
One day I was unable to find my Maths class notebook. My younger brother usually hid my notebooks and then gave back to me afterwards. Next day was my test and I needed it urgently. I thought that he had hid it and beated him in anger. Soon I found it hidden under my pillow. I felt very guilty for my deed but there was nothing. I could do except to repent.

2. Bad Effects of Anger
Anger is always harmful as it takes away wisdom. Words said in the state of anger cannot be taken back and they not only hurt the other person but also adversely affect our relations. So we have nothing else left except repentance. It also drives our facial beauty and affects our health. So anger should always be avoided.

You know anger is very harmful for the human being. Swearing, abusing and scolding are some bad habits that affect us bitterly. Ask your teachers and parents the safeguards against it.
(अपने शिक्षकों व माता-पिता से क्रोध से बचने के उपाय जानिए।)

Answer:
Students can ask their teachers and parents about the safeguards against anger.
(छात्र अपने शिक्षकों/माता-पिता से क्रोध से बचने के लिए उपाय जानें।)

Anger Central Idea of the Poem

Anger is a bad thing. It snatches away the charm of a face as clouds obstruct the sun lighting a part of the earth. The acts done in state of anger are always repented. The harm caused can never be undone.

Hence one should try to control his anger. A young man who keeps his temper silent is noble, brave and wise.

Anger Summary, Pronunciation & Translation

Oh! anger is an ugly thing,
And spoils the fairest face;
It cometh like a rainy cloud
Upon a sunny place.

(ओह! ऐंगर इज ऐन अगली थिंग,
ऐण्ड स्पॉईल्स द फेयरेस्ट फेस;
इट कमेथ लाइक अ रेनी क्लाउड
अपॉन अ सनी प्लेस.)

अनुवाद :
ओह! क्रोध है एक भद्दी (बुरी) चीज,
और खूबसूरत चेहरे को भी कुरूप कर देता है;
(अच्छा इन्सान भी क्रोध आने पर बुरा हो जाता है।)
वो आता है जैसे वर्षा भरे बादल आए
खिली हुई धूप वाले स्थान पर।

One angry moment often does
What we repent for years;
It works the wrong we ne’er make right
By sorrow or by tears.

(वन ऐंग्री मोमेण्ट ऑफन डज़
वॉट वी रिपेण्ट फॉर यीअर्स;
इट वर्क्स द रॉन्ग वी नेवर मेक राईट)
बाई सॉरो ऑर बाई टीयर्स.)

Mp Board Solution English Chapter 7 Class 10 अनुवाद :
क्रोध का एक क्षण हमसे ऐसा कुछ करवा देता है अथवा क्रोध के एक क्षण में ऐसा कुछ हो जाता है
जिसके लिए हम वर्षों तक पछताते हैं
वो हमसे ऐसी भूल करा देता है जिसे हम कभी सही नहीं कर पाते
न दुख से न आँसुओं से

The hand of peace is frank and warm,
And soft as ring dove’s wing;
And he who quells an angry thought
Is greater than a king.

(द हैण्ड ऑफ पीस इज फ्रैंक ऐण्ड वार्म,
ऐण्ड सॉफ्ट ऐज रिंग डब्ज विंग;
ऐण्ड ही हू क्वेल्स ऐन ऐंग्री थॉट
इज ग्रेटर दैन अ किंग.)

अनुवाद :
शान्ति का हाथ है उदार और तपन लिए हुए और नर्म जैसे वलय कपोत के पंख
(शान्ति का सम्बन्ध है प्रेम, उदारता एवं सहृदयता जैसे भावों से),
और जो अपने किसी क्रोधपूर्ण विचार का दमन कर लेता है
वो किसी राजा से भी महान है।

Ever remember in thy youth,
That he who firmly tries
To conquer and to rule himself
Is noble, brave and wise.

(एवर रिमेम्बर इन दाय यूथ,
दैट ही हू फर्मली ट्राईज़
टू कॉन्कर ऐण्ड टू रूल हिमसेल्फ
इज नोबल, ब्रेव ऐण्ड वाईज)

अनुवाद :
अपने यौवन काल में हमेशा याद रखना कि जो दृढ़ता से करता है प्रयास
स्वयं को जीतने का और (क्रोध को जीतने का) स्वयं पर राज करने का
वही कुलीन है, निडर है और ज्ञानी है।
वलय कपोत :
कबूतर या फाख्ता जिसके गले पर अंगूठी जैसा निशान हो।

for more MP Board Solutions follow on (Google News) and share with your friends.

Leave a Comment