जाने क्यों Murder Hornet खतरनाक है क्यों मारती हैं मधुमखियों को

Murder Hornet :

आखिर लोग क्यों डर रहे है Murder hornet से कहाँ कहाँ पायी जाती हैं मर्डर होर्नेट केसी होतीं हैं। हम आपको इस पोस्ट में सभी चींजे विस्तार

से बताएँगे Murder Hornet की करीब बिस किस्में हैं जिनमे से ये एक है, ये आसियान जॉइंट होर्नेट हैं.

और इन्ही जॉइंट होर्नेट को Murder Hornet भी कहते हैं. यह अपने प्रजाति की सबसे लम्बी आकर की होती हैं

करीब 5.50 सेंटीमीटर तक हो सकती हैं।और चालिश किलो मीटर प्रति घंटे के रफ़्तार से सफर कर सकती हैं.

ये नारंगी रंग के होते हैं इनके ढँक इतने खतराक होते है कि अगर ये कई बार ढँक मर दे तो मनुष्य की भी मोत होसकती हैं,

और इसीलि इन्हे Murder Hornet कहते हैंजापान में हर वर्ष करीब 50 लोगों की मृत्यु हो जाती हैं इनकी वजे से,

2013 में ये उत्तरी चीन पहुंचे गए बहुत केहर मचाया। जुलाई से ओक्टुबर तक इन्होने करीब सोलह सो लोगो को घायल कर दिया था,

और 42 लोग इनके जहरीले डंख से मरे गए थे.

हालाँकि ये इंसानो को नहीं मरना चाहती हैं लेकिन इनके सामने आने से इनको लोगो को इनकी जानकारी न

होने की वजे डंख लग जाते हैं। ये मधुमखियों का सीकर करती है. इनका एक पूरा प्लान रहता इनके झुंड में से ये किसी

एक स्क्वॉट को भेज कर मधुमखियों के छत्ता खोज जाता हैं और मिलने पर वो उस छत्ते पर एक केमिकल छोड़ देती हैं,

और ये केमिकल एक तरह का इनके लिए एक सिग्नल होता है। और इस रसायन को सूंघ कर ठीक चींटी की तरह वहां पर

एक झुण्ड पहुँच जाता हैं, इनके चहरे पर निचे की तरफ खुलने वाला जबड़ा होता है, जो देखने पर केकड़े की तरह दीखता है।

ये इनके जबड़े को एक हत्यार की तरह इस्तेमाल कर मधुमखियों का सीकर करती हैं ,

और सर काट कर खा लेती हैं एक murder hornet 14 सेकंड में किसी भी मधुमखी को कह लेती है,

इस झुंड में हमला करने वाली सभी Murder Hornet मादा होती हैं.

इनका झुण्ड कुछ ही मिंटो में मधुमखियों की पूरी कोलंय कहातम कर देता हैं।

ये इन मधुमखियों का मास अपनी आबादी बढ़ने के लिए भी उपयोग करती हैं.

Murder Hornet मधुमखियों के मांस में पाई जाने वाली सॉलिड प्रोटीन को सीधे नहीं पचा पति हैं।

इसीलिए वे इसकी लुकदी बना लेती हैं. जो ये अपने लार्वा कीड़ों को खिलातीं हैं जिससे वे लार्वा एक प्रकार

का थूक निकलते हैं, जो बहुत पोषक होता है, ये सलाइवा एक एनर्जी ड्रिंक की तरह काम करता हैं उन के लिए ,

लेकिन प्रकृति ने इनसे मधुमखियों को बचने के उपाय भी दिए हैं। जब ये Murder Hornet मधुमखियों के छत्ते पर केमिकल छोड़ती हैं

तब मधुमखिया उसे सूंघ लेती हैं। और छत्तों के अंदर घुस जाती हैं,अगर कोई भी होर्नेट छत्ते के अंदर घुस तो उसे खहटँ कर देतीं।

क्यूंकि एक मधुमखी इन्हे नहीं मर सकती किन्तु साडी मधु मखियाँ इन्हे मर सकती हैं.

जब कोई होर्नेट इनके छत्ते घुसता हैं तो सारी मधुमखियां मिल कर उस होर्नेट के शरीर पर चिपक जतिन हैं

और कंपंन शुरू करती हैं और उनकी शरीर का तापमान 45 डगरी तक होजाता हैं

इस तापमान को मधुमखियां बर्दास्त कर लेती हैं लेकिन होर्नेट इस तापमान को नहीं सह पति हैं और

मृत्यु हो जाती है, लेकिन इसके लिए भी इन्हे काफी सावधानिया बरतनी बढ़ती अगर होर्नेट की पूरी झुण्ड उनतक पहुँच गई

तो मधुमखियां उनका कुछ नहीं कर सकती हैं.

अमेरिका में Murder Hornet

अमेरिका में पाएं जनि वाली जनि वाली मधुमखियाँ यूरोपियन मधुमखियों के खंडन से हैं।

और Murder Hornet स्थायी तौर पर एसीए के बाशिंदे हैं। ऐसे में यूरोप से पहुंची अमेरिका

में बसी मधुमखिया उनसे निपटना नहीं जन्त्ति इसीलिए अब अमेरिका की मधुमखियां पूरी तरह से इंसानो पर निर्भर हैं।

इन्शानो को क्यों पड़ती हैं मधुमखियों की जरुरत दरसल मधुमखियना हमरे मानव और पेड़ पौधों के लिए बहुत जरुरी हैं,

मधुमखियों की जरिए ही बहुत सी पौधों फूलों में फर्टिलाइजेशन होता हैं। फूल, पौधे, फल, सब्जियां

यहाँ तक की कई इंडस्ट्रीज को भी जीवों की जरुरत पड़ती हैं.और इनमे से ही एक मधुमखियां हैं.

मधुमखियां फूलों पर बेठितिं और पदार्थ के कण उनके शरीर से चिपक जाती हैं,और जब वे मधुमखियां किसी दूर पौधे पर बैठती हैं

तो उससे फर्टिलाइजेशन की प्रक्रिया होती हैं. जिनसे कई फूल पौधे बढ़ते हैं.इन्शान 6 हजार साल से मधुमखियों को पालते हैं

अगर हम अमेरिका की बात करें तो वहां वेवसायिक तौर पर उगाई जाने फैसले 90% प्रतिशत मधुमखियों पर तिकी हैं ,

इनमे खाद , दालें, फल, फूल, सब्जियां, और बहुत सी दूसरीं चीजें टिकीं हुईं हैं,

जून 2014 में ओबामा सरकार ने अमेरिका में एक रिपोर्ट जारी की थी जिसमे बताया गया था

की अमेरिका अर्थ्यव्यवस्था को कितनी मदद मिलती हैं। एक लाख तेरा हजार करोड़ रुपये हर साल अमेरिका की

अर्थ्यव्यवस्था को मधुमखियों से मिलती हैं,बादाम जेसिन फैसले पूरी तरह से मधुमखियों पर निर्भर हैं.हर साल फरवरी मार्च

में बादाम के पेड़ों पर फूल खिलते हैं और उन पर मधुमखियां बैठती है, और उनकी शरीर पर चिपके पदार्थ

एक पेड़ से दूसरे पेड़ पर घूमते हैं. और फिर जाकर फर्टिलाइज फूल होता है. दुनिया के सबसे ज्यादा

बादाम का उद्पदन केलिफोर्निया करता है.100 प्रतिशत में से 80 प्रतिशत बादाम का उत्पदान्न केलिफ़ोर्निआ में होता हैं,

केलिफ़ोर्निआ में हर साल इंडरीएस को करीब चौदह लाख मधुमखी के छत्ते की जरूरत पड़ती हैं , मधुमखियों के एक छत्ते में करीब

10 हजार से लेकर 60 हजार मधुमखियां होती हैं। अगर दस हजार का भी औसत रखे तो अकेले कैलिफ़ोर्निया को

बादाम उत्पादकों के 14 हजार करोड़ मधुमखियों की जरुरत पड़ती हैं इसीलिए मधुमखियां का कारोबारी बड़ा हैं.

पिछले कई दसक से मधुमखियों की आबादी काम होती जा रही है इसके वजे हैं बीमारियां कीटनाशक हैं।

कृषि विभाग कर रहा इंतजाम

अमेरिका के कृषि विभाग ने भी इस मामले से निपटने के लिए लोगो को जागरूक करने लगा हैं

और फर्क बताने लगा है लोगों को कि मधुमखी और Murder Hornet केसी होती हैं

अमेरिका के कृष विभाग ने मधुमखीओं को बचने के बचने के लिए जापान से जालियां मांगा रहा हैं ,

ये जालियां ऐसी हैं की इसमें से मधुमखियां तो आ जा सकती हैं लेकिन Murder Hornet इसमें फंस जाती हैं।

मिलते हैं एक दरें पोस्ट में और भी जानकारी के साथ हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

Leave a Comment