Atal Pension Yojana क्या है? और कैसे अप्लाई करे

अटल पेंशन योजना (APY) असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले लोगों के लिए काफी फायदेमंद सामजिक सुरक्षा स्कीम है. APY में निवेश करने से रिटायरमेंट के बाद के खर्च करने के लिए आपको नियमित आय मिलती है. केंद्र सरकार ने APY को मई 2015 में शुरू किया था.

अटल पेंशन योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा 1 जून 2015 को की गयी थी | इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों की 60 वर्ष की आयु होने के बाद 1000 रु से लेकर 5000 रु तक की धनराशि पेंशन के रूप में प्रतिमाह दी जाएगी | Atal Pension Yojana के तहत पेंशन की धनराशि लाभार्थियों के द्वारा किये गए निवेश तथा उम्र के हिसाब से निश्चित की जाएगी | इस योजना के बारे में अधिक जानकारी जैसे अमाउंट चार्ट,रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, पात्रता,जरुरी दस्तावेज़ आदि  प्राप्त करने के लिए हमारे इस आर्टिकल को अंत तक ध्यानपूर्वक पढ़े

APY 2020: इस योजना के तहत आवेदन करने वाले आवेदक को हर महीने प्रीमियम जमा करना होगा | उसके बाद आवेदक की  60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद सरकार द्वारा मासिक पेंशन के रूप में बुढ़ापे में आर्थिक सहायता (Financial assistance will be provided in the form of monthly pension in old age.) प्रदान की जाएगी | अटल पेंशन योजना 2020 में ना केवल आप कम राशि जमा करवाकर हर माह ज्यादा पेंशन के हकदार हो सकते हैं, बल्कि असामयिक मृत्यु की दशा में अपने परिवार को भी इसका फायदा दिलवा सकते हैं

अटल पेंशन योजना 2020 का उद्देश्य:

इस योजना का मुख्य उद्देश्य असंगठित क्षेत्रो के कामगार लोगो को पेंशन देकर भविष्य को सुरक्षित करना है तथा आत्मनिर्भर बनाना है. यह एक सामाजिक सुरक्षा योजना है जिसका उद्देश्य योजना में शामिल होने वाले लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है. PM Atal Pension Yojana के ज़रिये लोगो को सशक्त बनाना  है

इस योजना में आवेदन करने के लिए लाभार्थियों की उम्र 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए तभी वह इस योजना का लाभ उठा सकते है. अगर कोई लाभार्थी 18 वर्ष की आयु में इस योजना से जुड़ना चाहता है तो उन्हे 210 रूपये का प्रीमियम हर महीने देना होगा तथा जिनकी आयु 40 वर्ष है तो उन्हें 297 से लेकर 1,454 रूपये तक का प्रीमियम देना होगा. अटल पेंशन योजना 2020 में शामिल होने के लिए लाभार्थियों का बैंक खाता होना अनिवार्य  है तथा बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए . जो लोग आयकर दाता है तथा सरकारी नौकरी वाले है वो लोग इस योजना का लाभ नहीं उठा सकते है. जो भी इच्छुक लाभार्थी है वो भारत देश के किसी भी राष्ट्रीय बैंक में जाकर अटल पेंशन योजना का खाता खोल सकते है

APY 2020 में निवेश करने के बाद लाभार्थियों को 60 वर्ष की आयु के पश्चात् हर महीने पेंशन प्राप्त होगी. इस पेंशन से लाभार्थी अपना अच्छे से जीवनयापन कर सकते है. इस योजना के अंतर्गत  लाभार्थी  की मृत्यु हो जाती है तो लाभार्थी को दी जाने वाली पेंशन धनराशि उम्मीदवार की अर्धांगिनी (पत्नी) को दी जाएगी तथा दोनों (पति, पत्नी) की मृत्यु हो जाती है तो ये पेंशन  धनराशि उल्लेखित नॉमिनी को दी जाएगी. Pension Fund Regulatory and Development Authority (PFRDA) एक नोडल एजेंसी की तरह कार्य करती है.

APY 2020 के लाभ

  • इस योजना का लाभ केवल भारत के लोग ही उठा सकते है
  • Atal Pension Yojana के तहत 60 वर्ष की आयु पूरी होने के बाद ही केंद्र सकरार द्वारा 1000 रूपये से लेकर 5000 रूपये तक की मासिक पेंशन प्रदान की जाएगी
  • Atal Pension Yojana के तहत पेंशन की धनराशि लाभार्थियों के द्वारा किये गए निवेश तथा आयु के आधार पर ही प्रदान की जाएगी
  • पीएफ खाते की ही तरह सरकार इस पेंशन योजना में अपनी ओर से भी अंशदान देगी
  • आप हर माह 1000 रूपए की पेंशन चाहते हैं और आपकी आयु 18 वर्ष है, तो आपको 42 साल तक हर माह  210 रूपये का प्रीमियम हर महीने  जमा करवाना होगा
  • वहीं 40 साल की उम्र वालों लोगो को  297 से लेकर 1,454 रूपये तक का प्रीमियम देना होगा  इसके बाद ही वह APY 2020 का लाभ उठा सकते है

Atal Pension Yojana 2020 के ज़रूरी दस्तावेज़ (पात्रता)

  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए 
  • उम्मीदवार की आयु 18 से 40 वर्ष होनी चाहिए
  • आवेदक का बैंक खाता होना चाहिए तथा बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर 
  • पहचान पत्र
  • स्थायी पता का प्रमाण
  • पासपोर्ट साइज फोटो

Leave a Comment